बुधवार, 1 अगस्त 2012

आज पहली तारीख है ......

आज पहली तारीख है ...... आप सोच रहे होंगे कि ऐसा क्या ख़ास है , ये तो हर महीने में आती है ! हाँ ! आप भी अपनी जगह सही हैं , पर मेरे लिए तो बहुत ख़ास है ....... सच कहूँ तो अगस्त महीने की पहली तारीख है इसीलिये हमारे लबों पर मुस्कान है -:)  आज एक अगस्त को अमित जी ,मेरे हमसफर का जन्मदिन है ! 

हम दोनों में बहुत सी बातें एकदम अलग हैं ,जैसे वो कम शब्दों में काम चलाने वाले और मेरे लिए तो दुनिया के सारे शब्दकोश के शब्द मिल कर भी कम पड़ेंगे | मैं तो अक्सर दूसरों की बातों को सच मान जाती हूँ और वो सबकी सुनते हुए भी अपनी बातों पर अडिग रहने वाले ,वैसे ये भी सच है कि बाद में उनकी बातों को ही सब मानते हैं | शादी के बाद देखा कि किसी बात पर परिवार के सभी सदस्य अपने-अपनी राय रख रहे होते , तो अमित जी एकदम खामोश रहते | सबसे आखिर में ही वो बोलते और सब उनकी बातों से एकमत हो जाते | मुझे थोड़ा अजीब लगता ,पर धीरे-धीरे इसकी आदत सी हो गयी ,कभी-कभी इसका लाभ मुझे भी मिलता | 

हम दोनों जिस बात पर हमेशा एकमना रहे ,वो थी हमारे बच्चों की शिक्षा | घर - परिवार में कैसा भी आयोजन होता ,हमने एक दिन भी उनका स्कूल नहीं छुड़ाया | देर होने पर ,हम उनको कार में पीछे की सीट पर सुला कर वापस अपने घर आ जाते उनके स्कूल के समय से पहले | इस बात पर हमने सबकी बहुत बातें सुनी पर हमने उनको अनसुना कर दिया | बच्चों ने भी हमको इसका बहुत अच्छा प्रतिफल दिया !

   अपने घर में आप  एकदम अँधेरे में भी बिना  चोट लगे घूम सकतें हैं | बस कुछ ऐसा ही है पति-पत्नी का सम्बन्ध ... हर शब्द की प्रतिध्वनी क्या होगी अथवा किस क्रिया की प्रतिक्रिया क्या होगी ये एक समय बाद खुद को भी पता होता है | अक्सर हमलोग बिना शब्दों के भी ऐसे ही बातें करतें हैं | आज उन के जन्मदिन पर मैं सिर्फ यही कहना चाहूंगी कि अगर मेरे जीवन में " पहली अगस्त " ये तारीख न आती , तो हो सकता है कि मेरा जीवन इससे बेहतर भी हो सकता था और बदतर भी ,पर ऐसा न होता और मेरा तो कतई न होता | मैं ईश्वर की शुक्रगुजार हूँ कि उसने अगस्त महीना बनाया और उसमें भी पहली तारीख बनाई और सबसे बढ़कर अमित जी को ऐसा बनाया | उनके साथ नवरस से भरपूर ज़िन्दगी ........ बस चश्मेबद्दूर !
वैसे सोचती हूँ इस वर्ष उनको शब्दों से छलकता शब्दकोश तोहफे में दे ही दूं ..-:) 
                                                                                                - निवेदिता

17 टिप्‍पणियां:

  1. :-)

    ढेरों शुभकामनाएं.........
    प्रेम का सोता बहता रहे.......
    सस्नेह
    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  2. बधाई सहित अनंत शुभकामनाएं आप दोनों को एक साथ नवरस से भरपूर ज़िन्दगी ..की

    उत्तर देंहटाएं
  3. अमित सर को जन्मदिन की बहुत बहुत बधाई!

    सादर

    उत्तर देंहटाएं
  4. behad khubsurat soch ke sath likha gaya ye lekh ....amit ji ke liye is se accha koi or gift ho hi nahi sakta ...


    aapko or amit ji ko dhero shubhkamanayen ....

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत - बहुत बधाई
    और ढ़ेर सारी शुभकामनाये
    :-)

    उत्तर देंहटाएं
  6. जन्मदिन की बहुत बहुत बधाई!और अनंत शुभकामनाएं ...

    उत्तर देंहटाएं
  7. सबसे पहले तो अमित जी को ढेरों बधाईयाँ..आप सहगामिनी हैं तो आपको भी हार्दिक बधाईयाँ .. यूँ ही हमें आह्लादित करती रहें..

    उत्तर देंहटाएं
  8. nazar zaroor utaar deejiyega aaj.....dher sari badhai....

    उत्तर देंहटाएं
  9. बहुत ही अच्छा लगा पढ़कर, परिवार के सुदृढ़ स्तम्भों की तरह आप दोनों ऐसे ही खड़े रहें। अमितजी को ढेरों शुभकामनायें..

    उत्तर देंहटाएं
  10. अमित जी को जन्मदिन की बहुत बहुत बधाई,,,,,

    रक्षाबँधन की हार्दिक शुभकामनाए,,,
    RECENT POST ...: रक्षा का बंधन,,,,

    उत्तर देंहटाएं
  11. मेनी हैप्पी रिटर्न्स ऑफ द डे, अमित जी!!

    उत्तर देंहटाएं
  12. जन्मदिन की बहुत बहुत बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  13. बहुत खूब! जन्मदिन मुबारक हो!

    उत्तर देंहटाएं
  14. अमितजी को ढेरों शुभकामनायें..

    उत्तर देंहटाएं
  15. आप सब की शुभकामनाओं के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद ...-:)

    उत्तर देंहटाएं
  16. देर से ही सही बधाई सहित अनंत शुभकामनायें...:)

    उत्तर देंहटाएं