शुक्रवार, 12 अगस्त 2011

मेरे भैया मेरे चन्दा मेरे अनमोल रतन .......



जब भी साँसे व्याकुल होतीं 
जीवन - ज्योति डगमगाती
तुरंत थाम कलाई को ,तलाशा 
डूबती कंपकपाती नाड़ी को.....
जीवन का पर्याय बनी ,इस 
नाड़ी पर ही ,मेरे भैया बांधा 
इक नाजुक सा धागा सूत का
नाम दिया दुलारा सा राखी का
जब हम छोटे थे तब ही ज्यादा 
अच्छे थे .... 
हाथों में राखी से सजी थाली थी 
सामने भाइयों की खिली कलाई थी
खिलखिलाती किलकारियों से 
महकती घर की अमराई थी
अब भी पल बड़े दुलारे हैं ...
बस जीवन के दायित्व बहुत सारे हैं
बदला कुछ नहीं ,न वो धागा 
न हीं अशेष मंगलकामनाएँ.....
घर हुए दूर तो क्या हुआ 
दिल तो अभी भी आस-पास हैं
टीका कर पाऊँ या नहीं बस 
कलाइयाँ चमकती रहें और 
माथे खुशियों से दमकते रहें .....
                           **************** मेरे भाइयों के लिए राखी ************
                                                                                                 -निवेदिता 


29 टिप्‍पणियां:

  1. घर हुए दूर तो क्या हुआ
    दिल तो अभी भी आस-पास हैं
    टीका कर पाऊँ या नहीं बस
    कलाइयाँ चमकती रहें और
    माथे खुशियों से दमकते रहें .....
    बहुत ही भावमय करते शब्‍दों के साथ बेहतरीन अभिव्‍यक्ति,
    इस स्‍नेहिल पर्व की शभकामनाएं ... ।

    उत्तर देंहटाएं
  2. भाईयों के प्रति स्नेह पगी प्यारी रचना

    उत्तर देंहटाएं
  3. आपकी रचनात्मक ,खूबसूरत और भावमयी
    प्रस्तुति कल के तेताला का आकर्षण बनी है
    तेताला पर अपनी पोस्ट देखियेगा और अपने विचारों से
    अवगत कराइयेगा ।

    http://tetalaa.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं
  4. निवेदिता जी बहुत सुन्दर प्यार बरसता रहे बहना का यों ही भाई पर ..बड़े सौभाग्यशाली होते हैं वो भाई जो बहना से इस तोहफे को पाते हैं -
    भ्रमर ५

    उत्तर देंहटाएं
  5. रक्षाबंधन की बहुत बहुत शुभ कामनाएँ आपको।
    बहुत ही अच्छी लगी कविता।

    सादर

    उत्तर देंहटाएं
  6. इतना प्यार बहन ही बरसा सकती है....बहुत प्यारी स्नेह में भीगी पोस्ट भाई के लिए ...

    उत्तर देंहटाएं
  7. भाई बहन का प्यार बखूबी रचना में बताया है आपने...

    उत्तर देंहटाएं
  8. भाई बहन का प्यार झलकता हुआ बेहद खूबसूरत कविता....

    उत्तर देंहटाएं
  9. बहुत सुंदर भाव.... राखी पर्व की शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  10. बेहद ख़ूबसूरत और भावपूर्ण...

    उत्तर देंहटाएं
  11. बढ़िया प्रस्तुति... रक्षाबंधन के पुनीत पर्व पर बधाई और हार्दिक शुभकामनाएं...

    उत्तर देंहटाएं
  12. प्यारी पोस्ट...... राखी के प्यारे त्योंहार की बधाई.....

    उत्तर देंहटाएं
  13. आज इस पावन पर्व के अवसर पर बधाई देता हूं और कामना करता हूं कि आपकी कलाई पर बंधा रक्षा सूत्र हर समय आपकी रक्षा करें।

    उत्तर देंहटाएं
  14. iss pyare se sneh ko barsane wali post ke liye thanx....Di:)
    happy rakhi!!

    उत्तर देंहटाएं
  15. यह पर्व आनन्द की अपूर्व छटा लिये हो।

    उत्तर देंहटाएं
  16. भाई -बहन के प्यार को दर्शाती...सुन्दर रचना .

    उत्तर देंहटाएं
  17. बेहद खूबसूरत
    आज का आगरा ,भारतीय नारी,हिंदी ब्लॉगर्स फ़ोरम इंटरनेशनल , ब्लॉग की ख़बरें, और एक्टिवे लाइफ ब्लॉग की तरफ से रक्षाबंधन की हार्दिक शुभकामनाएं

    सवाई सिंह राजपुरोहित आगरा
    आप सब ब्लॉगर भाई बहनों को रक्षाबंधन की हार्दिक बधाई / शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  18. रक्षा बंधन की ढेर सारी बधाई स्वीकार करें।

    उत्तर देंहटाएं
  19. रक्षाबंधन और स्वंतत्रता दिवस पर ढेर सारी शुभकामनायें.

    उत्तर देंहटाएं
  20. भाइयों के प्रति स्नेह की गागर छलकाते ... लाजवाब और सुन्दर रचना है ...

    उत्तर देंहटाएं
  21. घर हुए दूर तो क्या हुआ
    दिल तो अभी भी आस-पास हैं
    टीका कर पाऊँ या नहीं बस
    कलाइयाँ चमकती रहें और
    माथे खुशियों से दमकते रहें .....
    बड़ी कुशलता के साथ ,जिवंत सा मार्मिक सृजन मनोरम लगा जी , शुक्रिया जी /

    उत्तर देंहटाएं
  22. स्वतन्त्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं और ढेर सारी बधाईयां

    उत्तर देंहटाएं