शुक्रवार, 31 दिसंबर 2010

आने वाला पल .....जाने वाला पल.....

 एक बार फ़िर ,हो गयी तैयारी ,
 आने वाले पल के स्वागत की ,
 बीते हुये लम्हों को भुलाने की ,
 आने वाले को स्वीकारने की ,
 शुभकामनायें देने की ,पाने की ,
 सच ये पल ..,आने वाले पल ..,
 हर पल ..हों मुबारक सब को !
 हर राह ,हर घर ,हर मन ,
 सुखी हो ,फ़ले फ़ूले ....
 किसि की राह न कटे
 किसी की राह से ,आह से..
 कभी मिलो तो न झुके निगाह ..
 क्यों कि  आने वाला पल ही है ..
 आ के जाने वाला पल ......
 

13 टिप्‍पणियां:

  1. नव वर्ष पर आपने इस कविता के माध्यम से बहुत अच्छी कामना की है.

    आप को सपरिवार नववर्ष 2011 की हार्दिक शुभकामनाएं .

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत सुंदर /
    २०१० अब इतिहास बन जाएगा

    उत्तर देंहटाएं
  3. हर पल ..हों मुबारक सब को !
    हर राह ,हर घर ,हर मन ,
    क्या कहूँ इन पंक्तियों के बारे में...बहुत सुंदर कामना की है आपने ...शुक्रिया

    उत्तर देंहटाएं
  4. आपको नव वर्ष 2011 की हार्दिक शुभकामनायें ...आशा है नव वर्ष आपके जीवन में नित नयी खुशियाँ लेकर आएगा ..शुक्रिया

    उत्तर देंहटाएं
  5. आपके जीवन में बारबार खुशियों का भानु उदय हो ।
    नववर्ष 2011 बन्धुवर, ऐसा मंगलमय हो ।
    very very happy NEW YEAR 2011
    आपको नववर्ष 2011 की हार्दिक शुभकामनायें |
    satguru-satykikhoj.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  6. आपको भी नव वर्ष 2011 की हार्दिक शुभकामनाएं ! यह नव वर्ष आपके जीवन में सुख-समृद्धि और सफलता प्रदान करे ।

    उत्तर देंहटाएं
  7. निवेदिता जी ... नमस्ते !
    नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनायें .....मंगलकामनाओ के लिए धन्यवाद .........

    उत्तर देंहटाएं
  8. नव वर्ष की बहुत शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं
  9. किस खूबसूरती से लिखा है आपने। मुँह से वाह निकल गया पढते ही।

    उत्तर देंहटाएं
  10. आप सब का बहुत धन्यवाद ..

    उत्तर देंहटाएं
  11. किसि की राह न कटे
    किसी की राह से ,आह से..

    आगे बढ़ने की, ख़ुशी पाने की धुन में औरों का ख़याल रखने को कहती.. खूबसूरत पंक्तियाँ.. धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  12. आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन में शामिल किया गया है... धन्यवाद....
    सोमवार बुलेटिन

    उत्तर देंहटाएं