गुरुवार, 21 अगस्त 2014

ऐसा भी होता है ……


खामोशियों से सराबोर ये शाम 
दबी सी आहटों के शब्द तलाशती 
डूबते सूरज की रौशन रौशनी को 
कतरा दर कतरा अपने दामन में 
चाँद - तारों सा टाँक सजा लिया 

थके से कदमों में आ गयी 
एक नयी उमंग की चमक 
खिलखिलाहट में दिख गयी है 
शायद अपने घर की पहचान 

सुबह ने शायद अपनी पलकें खोल 
उदासी की बिखरी किरचें समेट लीं 
मासूम से कन्धों ने थाम लिया है
इन्द्रधनुषी सपनों की सौगात  ……… निवेदिता 
                                   

24 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुंदर शब्द ! मंगलकामनाएं आपको

    उत्तर देंहटाएं
  2. अरे वाह... बहुत प्यारी कविता है. ताज़गी से भरपूर...

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत ही सुन्दर,,,,,
    सस्नेह
    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  4. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  5. आपकी लिखी रचना शनिवार 23 अगस्त 2014 को लिंक की जाएगी........
    http://nayi-purani-halchal.blogspot.in आप भी आइएगा ....धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  6. आपका ब्लॉग देखकर अच्छा लगा. अंतरजाल पर हिंदी समृधि के लिए किया जा रहा आपका प्रयास सराहनीय है. कृपया अपने ब्लॉग को “ब्लॉगप्रहरी:एग्रीगेटर व हिंदी सोशल नेटवर्क” से जोड़ कर अधिक से अधिक पाठकों तक पहुचाएं. ब्लॉगप्रहरी भारत का सबसे आधुनिक और सम्पूर्ण ब्लॉग मंच है. ब्लॉगप्रहरी ब्लॉग डायरेक्टरी, माइक्रो ब्लॉग, सोशल नेटवर्क, ब्लॉग रैंकिंग, एग्रीगेटर और ब्लॉग से आमदनी की सुविधाओं के साथ एक सम्पूर्ण मंच प्रदान करता है.
    अपने ब्लॉग को ब्लॉगप्रहरी से जोड़ने के लिए, यहाँ क्लिक करें http://www.blogprahari.com/add-your-blog अथवा पंजीयन करें http://www.blogprahari.com/signup .
    अतार्जाल पर हिंदी को समृद्ध और सशक्त बनाने की हमारी प्रतिबद्धता आपके सहयोग के बिना पूरी नहीं हो सकती.
    मोडरेटर
    ब्लॉगप्रहरी नेटवर्क

    उत्तर देंहटाएं
  7. इन्‍द्रधनुषी सपनों की सौगात .... अनुपम भाव

    उत्तर देंहटाएं
  8. इंद्रधनुषी सपनो की सौगात,,,,सुंदर कवित,भावपुर्ण...

    उत्तर देंहटाएं

  9. बहुत सुन्दर और भावुक रचना
    उत्कृष्ट प्रस्तुति
    सादर ----

    आग्रह है
    हम बेमतलब क्यों डर रहें हैं ----

    उत्तर देंहटाएं
  10. आपका ब्लॉग देखकर अच्छा लगा. अंतरजाल पर हिंदी समृधि के लिए किया जा रहा आपका प्रयास सराहनीय है. कृपया अपने ब्लॉग को “ब्लॉगप्रहरी:एग्रीगेटर व हिंदी सोशल नेटवर्क” से जोड़ कर अधिक से अधिक पाठकों तक पहुचाएं. ब्लॉगप्रहरी भारत का सबसे आधुनिक और सम्पूर्ण ब्लॉग मंच है. ब्लॉगप्रहरी ब्लॉग डायरेक्टरी, माइक्रो ब्लॉग, सोशल नेटवर्क, ब्लॉग रैंकिंग, एग्रीगेटर और ब्लॉग से आमदनी की सुविधाओं के साथ एक
    सम्पूर्ण मंच प्रदान करता है.
    अपने ब्लॉग को ब्लॉगप्रहरी से जोड़ने के लिए, यहाँ क्लिक करें http://www.blogprahari.com/add-your-blog अथवा पंजीयन करें http://www.blogprahari.com/signup .
    अतार्जाल पर हिंदी को समृद्ध और सशक्त बनाने की हमारी प्रतिबद्धता आपके सहयोग के बिना पूरी नहीं हो सकती.
    मोडरेटर
    ब्लॉगप्रहरी नेटवर्क

    उत्तर देंहटाएं