शनिवार, 19 जुलाई 2014

एक दुआ तो माँगो मेरे दिल के सुकून की ………………


आज फिर से मिलेंगी
ढेर सारी दुआयें 
कोई बोलेगा सुखी रहो 
तो तुरंत ही दूजा बोले उठेगा 
दीर्घायु हो जीवन का सुख पाओ 
कोई सौभाग्य की तो 
कोई सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि की 

हर वर्ष की तरह 
मैं फिर से सोच रही हूँ 
क्या दुआओं में सिर्फ यही होना चाहिए 
या कहूँ जीवन के सुख की 
निश्चित निश्चिंतता के लिए 
अनिवार्य कारकों में जरूरी है 
सुख ,सौभाग्य ,सामाजिक प्रतिष्ठा 

काश !
किसी ने  … किसी एक ने भी 
अपनी दुआ में माँगा होता 
मेरे दिल का सुकून  .... 
एक ऐसा सुकून जो मिल सकता है 
सिर्फ तभी जब कभी भी  कहीं भी 
अपने अल्हणपने में बेबाक निकल सके 
हमारी बेटियाँ  .... और हाँ 
अपनी खिलखिलाहट रोकने को 
न ढांकना पड़े अपने चेहरे को  …

आज हर खबर में छाईं हैं बेटियाँ 
पर उनकी उपलब्धि नहीं 
बस पीड़ित हो कर 
वहशियों के मानसिक (?) दिवालियेपन का 
विज्ञापन सा बन गयी हैं बेटियाँ  …
हर बार की तरह 
शहर बदल गया और नाम बदल गया 
बस वहशत के हवाले हो गयीं बेटियाँ  ....…… निवेदिता  !

                                                     

12 टिप्‍पणियां:

  1. काश ! काश की कोई समझ सके इस पीड़ा को। दुःखद स्थिति ...!

    उत्तर देंहटाएं
  2. एक ऐसा सुकून जो मिल सकता है
    सिर्फ तभी जब कभी भी कहीं भी
    अपने अल्हणपने में बेबाक निकल सके
    हमारी बेटियाँ .... और हाँ
    अपनी खिलखिलाहट रोकने को
    न ढांकना पड़े अपने चेहरे को …bahut sundar abhiwkti !!

    उत्तर देंहटाएं
  3. bahut sundar kaamna kee hai apane , aisi hi kamana poori karne ke lie ishvar se prarthana karti hoon.

    उत्तर देंहटाएं
  4. ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन, पानी वाला एटीएम - ब्लॉग बुलेटिन , मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    उत्तर देंहटाएं
  5. अंत तो निरुत्तर कर गया...| हार्दिक बधाई...ऐसी मर्मस्पर्शी रचना के लिए...|

    उत्तर देंहटाएं
  6. की हैं ऐसी भी दुआएँ...बस असर होने का इंतज़ार है...

    सस्नेह
    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  7. हृदयस्पर्शी ..... ये अमानवीयता आखिर कब तक...

    उत्तर देंहटाएं
  8. मन को छूती है आपकी पुकार ... कब तक ढोना होगा नारी को ....

    उत्तर देंहटाएं
  9. अंतिम पंक्तियां मन को छूती हुई ....

    उत्तर देंहटाएं
  10. मैं दुआओं में यही मांगती हूँ

    उत्तर देंहटाएं
  11. बेहतरीन और बहुत कुछ लिख दिया आपने.....

    उत्तर देंहटाएं