रविवार, 18 अक्तूबर 2015

हौसला तुम्हारा



मेरी एक छोटी सी चाहत ,
बस एक नन्हा सा कण
जुगनू से
टिमटिमाते उजाले का ,
हौसला तुम्हारा 
उस एक किरण सी
चमक लाने को
दुनिया जला देने का ....... निवेदिता

1 टिप्पणी: